Category: मुद्दे

समकालीन  देश के प्रमुख मुद्दों पर विचार एवं विश्लेषण

0

लोकतंत्र गणतंत्र और षडयंत्र

लोकतंत्र गणतंत्र और षडयंत्रमेरे देश में गण फुटपाथ पर सोता है,तंत्र कोठी बंगले में सोता है।गण एकलव्य सा निहत्था अकेला हैद्रोणाचार्य के हर छल को झेला है,तंत्र के संग धन है, बल हैगण के...

सोचता हूँ कुछ ऐसा लिखू 0

इतिहास क्या लिखा जाएगा

इतिहास में क्या लिखा जाएगा ?” इस दुनिया में सबसे बड़ी अदालत इतिहास की है, कोर्ट में क्या हुआ, हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट में क्या हुआ ?युद्ध में क्या हुआ ?, इलेक्शन में क्या...

भारतीय आयरनमैन और आयरनलेडी 1

भारतीय आयरनमैन और आयरनलेडी

भारतीय आयरनमैन और आयरनलेडी जी हाँ ! दो महान शख्सियत जिनसे आप बखूबी परिचित है। एक जिसे लौह पुरूष अर्थात आयरन मैन के नाम से जाना जाता है जिन्होंने भारत को एक अखण्ड राष्ट्र...

0

पराली का रोना रोये

जो लोग दिवाली के पटाख़े बजाय हर पल पानी पी पीकर पराली पराली का रोना रोये जा रहे हैं, वो दिवाली के दिन से अचानक pollution में rise देख लो। और ये हर साल...

1

पूंजीवाद साम्यवाद फासीवाद का_जन्म

पूंजीवाद साम्यवाद नाजी फासीवाद माओवाद का_जन्म ब्रिटेन और बाद में यूरोप में वर्ष 1780 से 1820 के बीच हुए प्रचंड औद्योगिक प्रगति के फलस्वरूप सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक तथा वैचारिक क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन हुए।...

0

अजरबैजान अर्मेनिया युद्ध

अजरबैजान कैस्पियन सागर के तट पर बसा देश जिसके उत्तर में रूस है और दक्षिण में ईरान व पश्चिम में अर्मेनिया है। करीब 4400 वर्ग किलोमीटर का वह इलाका जो इस समय विश्व युद्ध...

error: Content is protected !!